Business is booming.

शनि को खुश करने के ये है उपाय

शनि को खुश करने के ये है उपाय, शनि को प्रसन्न करने के टिप्स

0 372

ऐसा माना जाता है की यदि शनि की बुरी दृष्टि यदि किसी पर पद जाती है, तो व्यक्ति को राजा से भिखारी बनने में समय नहीं लगता है। ऐसा नहीं है की शनि हमेशा बुरा ही करता है, जो लोग बड़ो का सम्मान करते है, दया भाव रखते है, किसी का दिल नहीं दुखाते, हमेशा सबकी भलाई करते है, तो शनि की कृपा भी उन पर होती है और उसका फल भी शनि उन्हें देते है। लेकिन यदि कोई व्यक्ति क्रूरता दिखाता है तो शनि उसका हिसाब भी वहीँ कर देते है।

क्या आप भी शनि की कृपा पाना चाहते है, और चाहते है की उनकी अच्छी दृष्टि हमेशा आप पर बनी रहे तो इसके लिए आपको शनि को प्रसन्न करना चाहिए। अच्छे कर्म करने चाहिए, किसी का बुरा नहीं करना चाहिए, आदि। इसके अलावा और भी ऐसे कई तरीके हैं जिनके इस्तेमाल से आप शनि को प्रसन्न कर सकते है। यदि आप भी ऐसा करना चाहते है तो आइये आज हम आपको शनि को प्रसन्न करने के कुछ उपाय बताते है।

शनि देव को प्रसन्न करने के उपाय:-

घोड़े की नाल की अंगूठी पहने:-

शनिवार के दिन किसी लोहार के यहां से घोड़े की नाल ले आएं, और उसे अंगूठी की तरह बनवा लें। उसके बाद इसे पहनने से पहले शुक्रवार रात को इसे कच्चे दूध में भिगोकर रख दें। और शनिवार को नहा धोकर पूजा करने के बाद इसे बाए हाथ की मध्यम ऊँगली में पहन लें, इससे शनि की कृपा आप पर बनी रहती है।

सूर्य भगवान् की पूजा करें:-

नियमित सुबह सूर्योदय से पहले उठाकर नहा लें, उसके बाद पाठ पूजा करके सूर्य को जल चढ़ाएं, आप चाहे तो जल में गुड़ भी मिला सकते है ऐसा नियमित करने से शनि देव प्रसन्न होते है, और उनकी कृपा आप पर बनी रहती है।

पीपल की पूजा करें:-

पीपल की पूजा करने से भी आप शनि देव को प्रसन्न कर सकते है। इसके लिए हर शनिवार को पीपल पर सरसों के तेल का दिया जलाएं, और पूजा करें। इसके अलावा सूर्योदय से पहले उठकर पीपल पर जल चढ़ाते हैं, और पूजा करते है तो इससे शनि बहुत खुश होते है।

तेल चढ़ाएं:-

यदि आप शनि की कृपा को जल्दी पाना चाहते है तो इसके लिए नियमित उगते हुए सूरज के समय पर लगातार 43 दिन तक, शनिदेव की मूर्ति पर तेल चढ़ाएं इससे भी शनिदेव बहुत प्रसन्न होते है, लेकिन इस बात का ध्यान रखें की पूजा का आरम्भ आपको शनिवार से ही करना चाहिए।

आटे की रोटी बनाएं:-

शनिवार के दिन सुबह उठकर आटे की दो रोटी बनाएं, उसके बाद एक रोटी पर अच्छे से तेल लगाएं, और कुछ मीठा रखें, जैसे की मिठाई या चीनी, उसके बाद दूसरी रोटी पर अच्छे से घी लगाए। उसके बाद तेल वाली रोटी काली गाय को खिलाएं, और दूसरी भी उसे ही या किसी अन्य गाय को खिलाएं। और शनिदेव से उनकी कृपा पाने की कामना करें शनिदेव जरूर प्रसन्न होंगे आप ऐसा हर शनिवार करें।

कुत्ते को लाडू खिलाएं:-

यदि आप शनिवार के दिन पीपल की पूजा करते है, उसके आगे सरसों के तेल का दीपक जलाते है, और उसके बाद पीपल के चारों और सात चक्कर लगाने के बाद काले कुत्ते को सात लड्डू खिलाते हैं, तो इससे भी शनि की कृपा पाने में आपको मदद मिलती है। और यदि आप करना चाहे तो ऐसा हर शनिवार भी कर सकते है।

काली गाय की पूजा करें:-

शनि देव की कृपा पाने के लिए आप काली गाय की पूजा भी कर सकते है, इसके लिए आपको काले रंग की गाय को माथे पर तिलक लगाने के बाद, उसके सींघ पर पवित्र धागा बांधना चाहिए। धुप दीपक दिखाकर आरती भी करनी चाहिए।उसके बाद गाय की परिक्रमा भी करनी चाहिए, और उसे बूंदी के कम से कम चार लाडू खिलाने चाहिए ऐसा करने से भी शनि देव प्रसन्न होते है, और जिन्हे साढ़ेसाती होती है उनके लिए यह बहुत बेहतर उपाय है।

काले चने का उपाय करें:-

शुक्रवार रात को अपनी इच्छा अनुसार काले चने को पानी में भिगोकर रख दें, और शनिवार सुबह को एक काला कपडा लें, उसमे वो भीगे हुए चने, एक लोहे का टुकड़ा, थोड़ा सा जला हुआ कोयला और हल्दी बाँध दें। उसके बाद उस पोटली को बहते हुए पानी में फेके और ध्यान दें, उस पानी में मछलियां होनी चाहिए। इस प्रक्रिया को एक साल तक हर शनिवार करें आपको शनि के हर बुरे प्रभाव से बचने में मदद मिलेगी।

शनि देव को प्रसन्न करने के अन्य उपाय:-

  • शनिवार के दिन पूजा करते समय शनि मन्त्र का जाप करे।
  • किसी का बुरा न करे, मन में दूसरों के लिए दया भाव रखें।
  • अपने माँ बाप और गुरुओ का सम्मान करें।
  • शनिवार को मंदिर में शनि की आराधना करें और उनकी कृपा के लिए प्रार्थना करे।
  • पीपल के पेड़ की पूजा करने से भी शनि प्रसन्न होते है।
  • शनिवार के दिन अपने एक हाथ की लम्बाई का उन्नीस गुना धागा लें, और उसकी माला बनाएं, और शनि के चरणों में लगाकर इसे अपने गले में धारण करें, इससे भी शनि की कृपा मिलती है।

तो ये हैं कुछ उपाय जिन्हे करके आप शनि देव को प्रसन्न कर सकते है। इसके अलावा आप हर शनिवार शनि मंदिर भी जाएँ, और शनि देव पर तेल चढ़ाएं, साथ ही शनि की ऐसी मूर्ति के दर्शन न करें, जिसकी आँखे खुली न हो। यदि आप शनि के प्रति पूरा श्रद्धा और विश्वास रखते है तो इससे आपको शनि की कृपा पाने में मदद मिलती है।