Business is booming.

गृह प्रवेश मुहूर्त कैसे निकालें? नूतन गृह प्रवेश मुहूर्त चक्र

0 6,485

नए घर में प्रवेश करने के पहले शुभ मुहूर्त निकाल लेना बहुत ही आवश्यक होता है। क्योंकि शुभ मुहूर्त में गृह प्रवेश करने से घर में धन लक्ष्मी का अभाव नहीं होता, घर में हमेशा खुशियाँ रहती है, कठिनाइयों का सामना नहीं करना पड़ता और तरक्की के मार्ग प्रशस्त होते है। आज हम आपको गृह प्रवेश कब किया जाए इसके बारे में विस्तृत जानकारी दे रहे है।

गृह प्रवेश मुहूर्त निकालने के लिए इन बातों का ध्यान रखें :

कौन से नक्षत्र में गृह प्रवेश करें?

नए घर में प्रवेश करने के लिए शुभ नक्षत्र का होना बहुत जरुरी है। ऐसे तो कुल 27 नक्षत्र होते है परन्तु उनमे से कुछ ही शुभ माने जाते है जिनमे आप गृह प्रवेश कर सकते है। ये नक्षत्र है – उत्तरा भाद्रपद, उत्तरा फाल्गुनी, उत्तरा आषाढ़, रोहिणी, मृगशिरा, चित्रा, अनुराधा और रेवती।

कौन से वार को गृह प्रवेश करें?

गृह प्रवेश करने के लिए चंद्र (बुधवार), गुरुवार, शुक्रवार, शनिवार शुभ माने जाते है। आप इन वारों में गृह प्रवेश कर सकते है।

कौन सी तिथि को गृह प्रवेश करें?

नए घर में प्रवेश करने के लिए द्वितीया, तृतीया, पंचमी, षष्ठी, सप्तमी, दशमी, एकादशी, द्वादशी और त्रयोदशी को शुभ माना जाता है। इन तिथियों में गृह प्रवेश करना अत्यंत शुभ माना जाता है।

गृह प्रवेश मुहूर्त चक्र :-

वार चंद्र (बुधवार), गुरुवार, शुक्रवार, शनिवारनक्षत्र – उत्तरा भाद्रपद, उत्तरा फाल्गुनी, उत्तरा आषाढ़, रोहिणी, मृगशिरा, चित्रा, अनुराधा, रेवती
तिथि द्वितीया, तृतीया, पंचमी, षष्ठी, सप्तमी, दशमी, एकादशी, द्वादशी, त्रयोदशी
लग्न द्वितीया, पंचमी, अष्टमी, एकादशी उत्तम है। तृतीया, षष्ठी, नवमी, द्वादशी मध्यम है।
लग्न-शुद्धि लग्न से प्रतिपदा, द्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, नवमी, दशमी, एकादशी स्थानों में शुभ ग्रह शुभ होते है।
तृतीया, षष्ठी, एकादशी स्थानों में पापग्रह शुभ होते है।
चतुर्थी, अष्टमी स्थानों में कोई ग्रह नहीं होना चाहिए।

 2018 में गृह प्रवेश का शुभ मुहूर्त जानने के लिए यहाँ क्लिक करे – गृह प्रवेश शुभ मुहूर्त 2018