Business is booming.

Chhath Puja 2018 : छठ पूजा २०१८ की महत्वपूर्ण तिथियां

0 2,942

छठ पूजा की विधि, छठ पूजा कितने तारीख के हैं? 2018 Chhat Puja Date, Chhath Puja in Hindi, Kartik chhath puja 2018, 2018 Chhath Calendar, Surya Shashthi Calendar for 2018, Chhath Puja Kartik 2018, छठ पूजा 2018 कब है? छठ पूजा 2018 डेट, Chhath 2018, चैती छठ कब है 2018, छठ पूजा कितना तारीख को है?

छठ पर्व बहुत ही ज्यादा नियम धर्मों से मनाया जाने वाला पर्व है। आज हम 2018 छठ पूजा (Chhath Puja 2018) के बारे में बताने जा रहे हैं। छठ पूजा 2018 की महत्वपूर्ण तिथियां जिसमे नहाय खाय, लोहंडा, खरना, पहला अर्घ्य, दूसरा अर्घ्य कब है? इसकी जानकारी दे रहे हैं।

Chhath Puja : छठ पूजा का पर्व

छठ हिन्दुओं के महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक है जिसे हर साल देश के विभिन्न हिस्सों में बड़ी श्रद्धा-भाव से मनाया जाता है। छठ को हिन्दुओं का सबसे प्राचीन त्यौहार भी माना जाता है जिसे डाला छठ, डाला पूजा, सूर्य षष्ठी, छठ पर्व और कार्तिक छठ भी कहा जाता है। छठ पर्व में सूर्य देव की आराधना की जाती है। पौराणिक ग्रंथों के अनुसार, छठी मैया सूर्य देव की बहन हैं और छठ पर्व में सूर्य देव की पूजा करने से छठी मैय्या प्रसन्न होती हैं और परिवार को सुख-समृद्धि का आशीर्वाद देती हैं।

छठ पूजा कब मनाई जाती है?

छठ पूजा का महापर्व साल में दो बार मनाया जाता है। एक कार्तिक महीने के शुक्ल पक्ष की षष्ठी तिथि को और दूसरा चैत्र महीने की षष्ठी तिथि को। चैत्र छठ को चैती छठ कहा जाता है और कार्तिक छठ को छठ पूजा कहते हैं। कार्तिक छठ को चैती छठ से बड़े पैमाने पर मनाया जाता है, जो चार दिनों तक चलता है।

कार्तिक छठ पूजा के नियम

छठ पूजा करने वाले भक्तों को बहुत से नियमों का पालन करना होता है। छठ व्रत को सभी व्रत में सबसे कठिन बताया जाता है। इस व्रत को करने वाले को चारो दिन प्रातःकाल जल्दी जागकर पवित्र जल से स्नान करना होता है। इतना ही नहीं दूसरे अर्ध्य वाले दिन उन्हें कड़कती ठंड में सूर्य उगने तक जल में आधा शरीर डूबा कर खड़ा रहना होता है।

व्रत के सभी इन व्रतधारी को जमीन पर चटाई या कंबल बिछा कर सोना होता है। और सभी परिवारजनों से अलग कमरे में रहना होता है जो पूरी तरह स्वच्छ और साफ़ हो। छठ व्रत महिला या पुरुष कोई भी कर सकता है। लेकिन इस व्रत को हर साल करना आवश्यक होता है। इसे बीच में छोड़ा नहीं जाता। छठ पूजा का भोग और प्रसाद भी छठ व्रती ही बनाते हैं जिसमे मिठाई, खीर, ठेकुआ बनाए जाते है। प्रसाद में फल भी चढ़ाएं जाते हैं। प्रसाद बनाते समय नमक, प्याज, अदरक और लहसुन का प्रयोग नहीं किया जाता।

कहाँ मनाया जाता है छठ पर्व?

ऐसे तो देश के विभिन्न हिस्सों में छठ पर्व मनाया जाता है परन्तु बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड और नेपाल के कुछ हिस्सों में छठ पर्व को बड़ी श्रद्धा से मनाया जाता है। वैसे आजकल दिल्ली और मुंबई जैसे महानगरों में भी छठ पर्व का उत्साह देखने को मिलता है।

Chhath Puja Date 2018 : छठ पूजा 2018

तारीख Date  दिन Day पर्व Festival तिथि Tithi
 Chhath Day 1 – 11 नवंबर 2018 रविवार (Sunday) (Nahay Khay) नहाय-खाय चतुर्थी – Chaturthi
 Chhath Day 2 – 12 नवंबर 2018 सोमवार (Monday) (Lohanda Kharna) लोहंडा और खरना पंचमी – Panchami
 Chhath Day 3 – 13 नवंबर 2018 मंगलवार (Tuesday) (Pehla Arghya) संध्या अर्ध्य षष्ठी – Shashthi
 Chhath Day 4 – 14 नवंबर 2018 बुधवार (Wednesday) (Dusra Arghya) उषा अर्घ्य सप्तमी – Saptami