Business is booming.

बुद्ध पूर्णिमा 2018 अप्रैल, बुद्ध जयंती 2018, बुद्ध पूर्णिमा का महत्व

Buddha Purnima 2018 Date and day, Buddha Purnima Date 2018, बुद्ध पूर्णिमा किस दिन है 2018 में, बुद्ध पूर्णिमा 2018 अप्रैल, बुद्ध जयंती 2018, बुद्ध पूर्णिमा कब है, बुद्ध पूर्णिमा का महत्व और क्यों मनाई जाती है, वैशाख पूर्णिमा का महत्व, बुद्ध भगवान का जन्म बुद्ध पूर्णिमा, गौतम बुद्ध पूर्णिमा 2018 डेट

0 491

बुद्ध पूर्णिमा या बुद्ध जयंती, बौद्ध धर्म को मानने वाले समुदायों का महत्वपूर्ण पर्व है जिसे वैशाख माह की पूर्णिमा को मनाया जाता है। माना जाता है पूर्णिमा के दिन ही भगवान गौतम बुद्ध का जन्म हुआ था। मान्यतानुसार इस दिन ५६३ ई.पू. में बुद्ध का जन्म लुंबिनी, भारत (वर्तमान के नेपाल) में हुआ था। और पूर्णिमा के दिन ही ४८३ ई. पू. में ८० वर्ष की आयु में, देवरिया जिले के कुशीनगर में निर्वाण को प्राप्त हुए था। बुद्ध पूर्णिमा का पर्व, गौतम बुद्ध (बौद्ध धर्म के संस्थापक) के जन्मदिन के रूप में मनाया जाता है।

गौतम बुद्ध का परिचय :-बुद्ध जयंती 2018

इतिहास में मिले साक्षों के अनुसार भगवान बुद्ध का जन्म, ज्ञान की प्राप्ति और महापरिनिर्वाण तीनों एक ही दिन वैशाख पूर्णिमा के दिन हुए थे। जो आज तक किसी भी महापुरुष के साथ नहीं हुआ है। भगवान बुद्ध बहुत मानववादी और विज्ञानवादी थे और अपनी इसी खूबी के कारण वे दुनिया के सबसे महान महापुरुष बने। माना जाता है इसी दिन भगवान बुद्ध को बुद्धत्व की प्राप्ति हुई थी। बौद्ध धर्म को मानने वाले इस पर्व को बड़े धूम धाम से मनाते है। हिन्दू धर्मावलंबियों के लिए बुद्ध भगवान विष्णु के नौवें अवतार थे। इसलिए हिन्दुओं में भी इस पर्व को बहुत शुभ माना जाता है। यह पर्व भारत, चीन, नेपाल, सिंगापुर, वियतनाम, थाईलैंड, जापान, कंबोडिया, मलेशिया, श्रीलंका, म्यांमार, इंडोनेशिया, पाकिस्तान और विश्व के कई देशों में भी मनाया जाता है।

बिहार में स्थित बोधगया हिन्दू व् बौद्ध धर्मावलंबियों के लिए पवित्र स्थान है। माना जाता है गृहत्याग के बाद सिद्धार्थ सत्य की खोज के लिए सात वर्षों तक वन में भटकते रहे। उसके बाद उन्होंने कठोर तप किया और आखिरकार वैशाख पूर्णिमा के दिन बोधगया में बोधिवृक्ष के नीचे उन्हें बुद्धत्व ज्ञान की प्राप्ति हुई। तभी से इस दिन को बुद्ध पूर्णिमा के रूप में जाना जाता है।

बुद्ध पूर्णिमा का पर्व :-

यह पर्व बौद्ध धर्म के अनुयायियों के लिए बहुत ही पवित्र होता है। इस दिन बड़े बड़े बौद्ध मंदिरों में प्रार्थना सभा, गौतम बुद्ध के उपदेश, धार्मिक प्रवचन, बौद्ध धर्म की पवित्र ग्रंथों का पाठ, ध्यान, और बुद्ध भगवान की मूर्तियों का पूजन किया जाता है। बुद्ध पूर्णिमा के दिन महाबोधि मंदिर में एक अलग ही रौनक देखने को मिलती है। इस दिन महाबोधि मंदिर को अलग-अलग रंग के फूलों और ध्वजों से सजाया जाता है और भगवान बुद्ध का पूजन किया जाता है।

बुद्ध पूर्णिमा 2018

2018 में बुद्ध पूर्णिमा 30 अप्रैल 2018, सोमवार को मनाई जाएगी।

यह गौतम बुद्ध का 2580th जन्मदिन है।

पूर्णिमा तिथि का आरंभ 29 अप्रैल 2018, रविवार को 06:37 बजे होगा। जिसका समापन 30 अप्रैल 2018, सोमवार को 06:27 बजे होगा।